मंगलवार, 19 जनवरी 2016

विहिप द्वारा बंग भवन पर प्रचण्ड प्रदर्शन

बंगाल के मालदा क्षेत्र में असमाजिक तत्वों की हिंसक भीड़ द्वारा पुलिस थाने सहित कई घरों में आगजनी, लूटपाट व आतंक फैलाने के विरोध में विश्व हिन्दू परिषद के आह्वान पर प्रवासी बंग समिति, बजरंग दल के हजारों लोगों ने 15 जनवरी 2016 को दिल्ली के बाराखम्भा रोड स्थिति बंग भवन पर प्रचण्ड प्रदर्शन किया, इस अवसर पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की सरकार द्वारा मालदा प्रकरण के गुनाहगारों को दण्डित करने के बजाय संरक्षण देने के खिलाफ राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व बंगाल की मुख्यमंत्री को ज्ञापन दिया।

 बंग भवन पर आयोजित हुए इस प्रदर्शन का नेतृत्व विहिप के उत्तर भारत के संगठन मंत्री करूणा प्रकाश जी व दिल्ली के संगठन मंत्री डा. अनिल जी ने किया। प्रदर्शनकारियों ने नालंदा के गुनहगारों को फांसी दो, ममता बनर्जी अपराधियों को संरक्षण देना बन्द करो, वन्दे मातरम, भारत माता की जय व ममता बनर्जी शर्म करो के गगनवेदी नारे लगाते हुए बंग भवन पर उग्र प्रदर्शन किया। डा. अनिल कुमार जी ने कहा कि  सेना के जवानों पर लगातार हमले हो  रहे हैं और सरकार हमलावरों को संरक्षण देकर सेना का मनोबल तोड रही है, साथ ही बंगलादेशी घुसपैठ भी बड़ी मात्रा में करवा रही है। यह देश की अस्मिता पर हमला है।

    इस प्रदर्शन में बड़ी संख्या में प्रवासी बंगाली व महिलाओं ने भी भाग लिया। प्रदर्शनकारियों को सम्बोधित करते हुए वक्ताओं ने इस बात पर आक्रोश प्रकट किया कि 3 जनवरी को बंगाल के मालदा जिले में कालिया चैक पर हजारों की संख्या में आम लोगों को भड़काकर जिस असमाजिक तत्वों ने मालदा थाने, बसें, कारे व आम लोगों के घरों व दुकानों में आगजनी, तोड़फोड़ लूटपाट व मारमीट करके आतंक फैलाया। उन गुनहगारों को दण्डित करने के बजाय बंगाल सरकार शर्मनाक संरक्षण दे रही है। इससे लोगो में असुरक्षा फैल गयी है। इस असुरक्षा से उभरने व पश्चिम बंगाल सरकार को संविधान का पालन करने के लिए विश्व हिन्दू परिषद ने केन्द्र सरकार को अपने दायित्व का निर्वाह करने की पूर जोर मांग की।


द्वरा: महेन्द्र रावत
विहिप, मीडिया प्रमुख
9953709155, 9871166475

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें