गुरुवार, 23 अप्रैल 2015

निर्दयता ने ली एक गाय की जान, दूसरी हुई लंगडी

प्रैस विज्ञप्ति
निगम कर्मियों की निर्दयता ने ली एक गाय की जान, दूसरी हुई लंगडी, अस्पताल में कराया भर्ती
विहिप-बजरंग दल ने किया सदर बाजार में हंगामा, जांच की मांग
नई दिल्ली। अप्रेल 22, 2015। दिल्ली के भीड भाड भरे सदर बाजार में आज बुधवार सुबह उस समय अफ़रा-तफ़री मच गई जब दिल्ली नगर निगम के कुछ लापरवाह और निर्मम कर्मचारियों की कर्तूतों की वजह से एक गाय की जान चली गई तथा दूसरी को अपनी दो टांगें गँवानी पड़ीं। विहिप के जिला मंत्री श्री पुरुषोत्तम व उपाध्यक्ष श्री मुकेश नाइक के नेतृत्व में विहिप - बजरंग दल के कार्यकर्ताओं तथा स्थानीय गौ भक्तों ने जमकर रोष प्रदर्षण किया तथा घटना की जाँच कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की मांग की।

विस्तृत जानकारी देते हुए विहिप दिल्ली के प्रवक्ता श्री विनोद बंसल ने बताया कि दिल्ली के व्यस्ततम सदर बाज़ार थाना क्षेत्र में आज प्रातः 10 बजे दिल्ली नगर निगम के कुछ कर्मचारी सदर बाज़ार में घूम रही कुछ गायों को पकड़ने पहुँचे। गायों को रस्सी बाँधने के बाद निगम कर्मियों ने इतनी निर्दयता के साथ रस्सी को खींचा कि एक गाय की नाक में से खून बहने लगा और गले में फ़ाँसी लगने के कारण उसकी वहीं पर मौत हो गई। दूसरी गाय को बेरहमी से पीटे जाने के कारण अपनी दो टाँगें गँवानी पड़ीं। गली लल्लू मिश्रा में घटी इस अप्रत्याशित घटना ने वहाँ उपस्थित सभी को आक्रोषित कर दिया और गौ भक्त निगम के विरुद्ध नारेबाज़ी करने लगे। बाद में दोनों गायों को पोस्टमार्टम तथा मेडिकल जाँच हेतु तीस हज़ारी के पास स्थित पशु चिकित्सालय में भेज दिया गया। विहिप के प्रखण्ड उपाध्यक्ष श्री बजरंगी सहित स्थानीय गौ भक्तों का यह भी कहना है कि निगम-कर्मी गायों को सड़कों से उठा तो ले जाते हैं लेकिन जब इनकी खोज खबर की जाती है तो अक्सर ये गायें किसी भी गौशाला में नहीं मिलतीं। अर्थात्, इन्हें कहाँ ले जाकर छोड़ा जाता है इसका कुछ अता-पता नहीं चलता। विहिप ने मांग की है कि न सिर्फ़ आज की इस घटना की, बल्कि, गायों को पकड़े जाने की इस पूरी प्रक्रिया की जाँच कर दोषियों के विरुद्ध कड़ी कार्यवाही की जाए।  
भवदीय
 
विनोद बंसल,
मीडिया प्रमुख,
इंद्र्प्रस्थ विश्व हिंदू परिषद, दिल्ली
मो : 9810949109

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें