शुक्रवार, 3 अप्रैल 2015

‘संघ पाठशाला’ में सात हजार छात्रों को पढ़ाएंगे भागवत

रेवाड़ी राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ द्वारा शुक्रवार को रोहतक में शुरू हो रहा तरुणोदय-2015 हर लिहाज से खास होगा। वर्ष 1995 के बाद आरएसएस का हरियाणा में ये सबसे बड़ा आयोजन है। तीन दिन चलने वाली इस ‘संघ पाठशाला’ में प्रदेश के विभिन्न जिलों के कॉलेजों में पढ़ रहे सात हजार विद्यार्थियों को राष्ट्रीयता का पाठ पढ़ाया जाएगा। 

खुद संघ प्रमुख मोहन भागवत इस पाठशाला में छात्रों को मां भारती के प्रति समर्पण व कर्तव्य का पाठ पढ़ाएंगे। रोहतक के दिल्ली रोड पर स्थित बाबा मस्तनाथ विश्वविद्यालय परिसर में होने वाले इस भव्य आयोजन से राजनीतिक चेहरों को दूर रहने के लिए कहा गया है। कार्यक्रम का उद्देश्य छात्रों में ऐसे संस्कार विकसित करना है, जिससे उनमें देश के प्रति कर्तव्य बोध हो।
 
 ‘‘संगठन गढ़े चलो, सुपंथ पर बढ़े चलो। भला हो जिसमें देश का, वो काम सब किए चलो’’ जैसी काव्य रचनाओं के माध्यम से भी संघ के नेता छात्रों को प्रेरित करेंगे। संघ के प्रांत कार्यवाह डीपी भारद्वाज ने बताया कि इस आयोजन से राजनीति का कोई रिश्ता नहीं है। इसका मकसद भारत में हिन्दू राष्ट्र की अवधारणा मजबूत करना, आदर्श हिन्दू घर कैसा हो की शिक्षा देना है। संघ प्रमुख मोहन भागवत 27 मार्च को रोहतक पहुंचेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें