मंगलवार, 31 मार्च 2015

निस्वार्थ और पूजा भाव से की गई सेवा ही सच्ची सेवा है

सच्चे अर्थों में सेवा का भाव क्या है, सेवा का उद्देश्य क्या है, संघ और सेवा भारती किन क्षेत्रों में सेवा कार्य कर रहे हैं, सेवा को लेकर भारतीय चिंतन क्या कहता है, सेवा की आड़ में मतांतरण और स्वार्थ सिद्धि के प्रयास कितने उचित हैं, ईसाई मिशनरी की सेवा के पीछे का सच क्या है….सहित अन्य विषयों पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के अखिल भारतीय सेवा प्रमुख

रविवार, 29 मार्च 2015

ज्ञान के प्रसार के लिये भी भारतीय बलिदान देने से पीछे नहीं रहे : मोहन भागवत

तरुणोदय शिविर के दौरान सरसंघचालक
रोहतक : खबर है राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ मोहन जी भागवत ने कहा कि भारत की गौरवशाली परंपरा रही है, इसी गौरवशाली परंपरा के कारण ही आज भारत का बड़ा और शक्तिशाली होना विश्व की जरूरत है. सरसंघचालक हरियाणा के रोहतक में तरुणोदय 2015 में शिविरार्थियों को संबोधित कर रहे थे.
उन्होंने कहा कि हमारी सांस्कृतिक धरोहर के कारण ही हम अनेक कालचक्रों का सामना करते हुए टिके रहे, इसका कारण हमारी महान सांस्कृतिक परंपरा है.
हमने कभी किसी संस्कृति को नहीं नकारा. हमारी समन्वयवादी परंपरा रही है. इसीलिए सभी क्षेत्रों में अनेक कीर्तिमान स्थापित किए हैं. ज्ञान-विज्ञान का प्रारंभ करने का श्रेय भारत को जाता है.

शुक्रवार, 27 मार्च 2015

हिन्दू नववर्ष एवं भगवान श्रीराम के जन्मदिन (श्रीरामनवमी) की हार्दिक शुभकामनाएँ- डाॅ0 प्रवीण तोगडि़या

    बन्धुवर,
    जय श्रीराम।  

 चैत्र शुक्ल प्रतिपदा विक्रमी संवत 2072 शके 1937 युगाब्द 5117 नववर्ष भगवान श्रीराम के जन्मदिन श्रीरामनवमी की हार्दिक शुभकामनाएं। नववर्ष प्रतिपदा के दिन महत्व क्यो?
 हवाओं में परिवर्तन होता है।

कल हैदराबाद (भाग्यनगर) में राम नवमी के जुलुस के पहले मस्ज़िद ढक दिया गया

कल हैदराबाद (भाग्यनगर) में राम नवमी के जुलुस के पहले मस्ज़िद ढक  दिया गया था..कौन कहते है .. हैद्राबाद (भाग्यनगर) हिंदू संगठीत नही है.. अरे किधर गया वो...  देखो हिंदू मचलते है तो इतिहास लिख जाता है..८ लाख के संख्या मे राम नवमी की शोभा यात्रा..हर हिंदूंनो ऐसे ही संगठीत होकर हिंदूओ की एकता दिखानी है..
जय जय श्रीराम








राम नवमी शोभा यात्रा की तैयारियां ज़ोरों पर

प्रैस विज्ञप्ति
राम लीला मैदान से शनिवार एक बजे से निकलेगी भव्य यात्रा
 
नई दिल्ली। मार्च 25, 2015। राम नवमी की विशाल शोभा यात्रा की तैयारियां इन दिनों ज़ोरों पर हैं। शनिवार दिनांक 28/03/15 को दोपहर 1 बजे से दिल्ली के आसफ़ अली रोड स्थित राम लीला मैदान से दरियागंज चांदनी चौक सदर बाजार होते हुए गंगेश्वर धाम करोल बाग तक निकाली जाने बाली लगभग 10 किमी लंबी यात्रा के संपूर्ण मार्ग को विशेष रूप से सजाए जाने की बृहद योजना बनाई गई है।

रविवार, 22 मार्च 2015

वलात्कारीयों के स्वर्ग पश्चिम बंगाल

जाने पश्चिम बंगाल मे घटित अनगीनत वलात्कारों के वारे अबतक बंगाल सरकार क्या क्या कदम उठायें है। देखें यह फटो समाचार।

अस्पृश्यता मुक्त समाज के लिए विश्व हिन्दू परिषद का संकल्प - तोगडि़या

विश्व हिन्दू परिषद के अन्तरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष  डाॅ. प्रवीणभाई जी तोगडि़या का प्रेस वक्तव्य
अस्पृश्यता मुक्त समाज के लिए विश्व हिन्दू परिषद का संकल्प - डाॅ. प्रवीण तोगडि़या
नयी दिल्ली,  मार्च, 2015
विश्व हिन्दू परिषद ने भारत से अस्पृश्यता निवारण के संकल्प को दोहराते हुए विशेष कार्य योजना के साथ विहिप स्वर्ण दृष्टिपथ 2025 की घोषणा की है। विहिप के अन्तरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डाॅ. प्रवीणभाई तोगडि़या ने कहा कि भारत में अस्पृश्यता (छुआछूत) का कोई अस्तित्व नहीं है, विहिप ने इस सिद्धान्त पर सदैव आस्था प्रकट की है।

शनिवार, 21 मार्च 2015

विहिप की व्यापक तैयारियाँ

प्रैस विज्ञप्ति
विक्रमी संवत् 2072 के स्वागतार्थ विहिप की व्यापक तैयारियाँ
सप्ताह भर तक दिल्ली में हवन, दीप दान, तिलक यज्ञ, प्रभात फ़ेरियाँ व सांस्कृतिक कार्यक्रमों की रहेगी धूम
नई दिल्ली मार्च 20, 2015। भारतीय नव वर्ष विक्रमी संवत 2072 के स्वागतार्थ विश्व हिंदू परिषद्, बजरंग दल, दुर्गावाहिनी व मातृशक्ति सहित अनेक धार्मिक, सामाजिक व सांस्कृतिक संगठनों ने आज दिल्ली के हर कोने में अनेक प्रकार के कार्यक्रमों की योजना बनाई है।

शुक्रवार, 20 मार्च 2015

अवध मे विश्व हिन्दू परिषद कि 84 कोसी परिक्रमा



विषय: अवधधाम 84 कोसी परिक्रमा 

भारत एक आध्यात्मिक राष्ट्र है। इसकी सांस्कृतिक राजधानी अयोध्यापुरी है। अयोध्या अथवा अवधपुरी धाम की पौराणिक दृष्टि से सांस्कृतिक सीमाएँ निर्धारित हैं। हमारे ऋषि-मुनियों ने तीर्थक्षेत्र की अस्मिता वहाँ की परम्पराओं को अक्षुण्य बनाए रखने के लिए तीर्थक्षेत्र की सीमाओं का निर्धारण कर, उसकी परिक्रमा करने का सांस्कृतिक विधान जन-जन के हृदय में स्थापित किया है। पौराणिक मान्यतानुसार अवधपुरी धाम की तीन परिक्रमा (पंचकोसी, चैदह कोसी, चैरासी कोसी) करने का विधान अनन्तकाल से है, जिसका उल्लेख अनेक पौराणिक ग्रन्थों में मिलता है।

बुधवार, 18 मार्च 2015

आर एस एस का २०१५ वार्षिक प्रतिवेदन हिंदी मे

पढे आर एस एस, सरकार्यवाह  द्वारा प्रस्तुत आर एस एस का २०१५ वार्षिक प्रतिवेदन हिंदी मे|
माननीय सरकार्यवाह जी द्वारा प्रस्तुत वार्षिक प्रतिवेदन अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा १३ मार्च २०१५
अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा
१३ मार्च २०१५
परमपूजनीय सरसंघचालक जी, अखिल भारतीय पदाधिकारी गण, अखिल भारतीय कार्यकारी मंडल के सभी सदस्यगण, क्षेत्रों एवम् प्रान्तों के मान्यवर संघचालक तथा कार्यवाह बंधुगण, नवनिर्वाचित अखिल भारतीय प्रतिनिधि बंधु तथा सामाजिक जीवन के विविध कार्यों में कार्यरत निमंत्रित बहनों तथा भाइयों का नागपुर के इस पावन परिसर में संपन्न हो रही अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा में हृदय से स्वागत है। संभव है कि आप में से कुछ बंधुओं का इस सभा में सम्मिलित होने का यह पहला ही अवसर होगा। 

सोमवार, 16 मार्च 2015

मातृभाषा में प्राथमिक शिक्षा

अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा मे प्रस्ताव लिया गया देश मे "मातृभाषा में प्राथमिक शिक्षा"
आर.एस.एस का अखिल भारतीय प्रतिनिधि सभा देश-विदेश की विविध भाषाओं का ज्ञान प्राप्त करने की पक्षधर है लेकिन उसका यह मानना है कि स्वाभाविक शिक्षण व सांस्कृतिक पोषण के लिए शिक्षा, विशेष रुप से प्राथमिक शिक्षा, मातृभाषा अथवा संविधान स्वीकृत प्रादेशिक भाषा के माध्यम से ही होनी चाहिए.

सोमवार, 9 मार्च 2015

ईसाई मिशनरी : विहिप से प्रैस विज्ञप्ति

ईसाई मिशनरी भारत सरकार , हिन्दू समाज और भारत देश को सम्पूर्ण विश्व में बदनाम करने के लिये हमेशा झूठा और दुर्भावनापूर्ण प्रचार करते हैं । भाजपानीत सरकार आने पर इनका यह दुष्प्रचार अधिक आक्रामक हो जाता है । ईसाई मिशनरियों के इस मिथ्यापूर्ण दुष्प्रचार के संदर्भ में साक्ष्य देने के लिए डा सुरेन्द्र कुमार जैन, केंद्रीय संयुक्त महामंत्री, के नेतृत्व में विश्व हिन्दू परिषद

कर्मठ अनुशासन-प्रिय व अनासक्त थे श्रीधर आचार्य : अशोक सिंहल

नई दिल्ली। 08 मार्च, 2015 । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक व विश्व हिन्दू परिषद(विहिप) के अनेक दायित्वों पर रहे श्रीयुत् श्रीधर आचार्य अत्यन्त कर्मठ, अनुशासन-प्रिय तथा अनासक्त भाव से देश व समाज की सेवा में जीवन पर्यन्त संलग्न रहे। उनको श्रद्धांजलि देते हुए विश्व हिन्दू परिषद के संरक्षक श्री अशोक सिंहल ने यह भी कहा कि अपने कार्य में आनन्द का अनुभव करते हुए समाज की पीड़ा को वे सहज ही पहचान लेते थे और उसके निदान के लिए सदैव सक्रिय रहते थे।

स्वाइन फ्लू , डॉ प्रवीण तोगड़िया क्या कहें

स्वाइन फ्लू भीषण महामारी बन चुकी है सभी ने मिलकर, लोगों में जागृति कर इस महामारी का सामना करना चाहिए - डॉ प्रवीण तोगड़िया,  इंडिया हेल्थ लाईन  भुबनेश्वर, २८ फरवरी, २०१५  "भारतभर में  दिनों में १००० से अधिक लोग स्वाइन फ्लू से मरे हैं और २०,०००  पीड़ित हुए हैं।  

सोमवार, 2 मार्च 2015

संपन्न हुआ विराट हिन्दू सम्मेलन

प्रेस विज्ञप्ति
हिन्दू ही आगे के उद्घोष के साथ संपन्न हुआ विराट हिन्दू सम्मेलन
नई दिल्ली, 1 मार्च (इंविसंके). मार्च के पहले दिन तड़के से ही शुरू वर्षा के बीच देश की राजधानी दिल्ली पूरी तरह भगवा रंग में नजर आ रही थी. राजधानी के कोने-कोने से भगवा पटका डाले और भगवा झंडा लहराते हुए लोगों के झुंड के झुंड जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम की ओर बढ़ रहे थे. यह अवसर था विश्व हिन्दू परिषद् द्वारा आहूत विराट हिन्दू सम्मेलन का.