सोमवार, 23 फ़रवरी 2015

इन्द्रेश कुमार का वार्ता : एकात्म मानववाद सच्चा जीवन दर्शन

राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य श्री इन्द्रेश कुमार का वार्ता : एकात्म मानववाद सच्चा जीवन दर्शन
नई दिल्ली (इंविसंके). राष्ट्रीय स्वंयसेवक संघ की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य श्री इन्द्रेश कुमार ने कहा कि पंडित दीनदयाल हमेशा दूसरों के लिये जीते थे और एकात्म मानववाद को जीवन का सच्चा दर्शन मानते थे. उनके अनुसार व्यक्ति का चालचलन ही उसकी गारंटी होता है. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि आज लोगों को दीनदयाल जी से प्रेरणा लेने की जरूरत है. उन्होंने कहा कि लोगों को समझने की जरूरत है कि हम एक देश, एक जन और एक ही राष्ट्र हैं, ना कि गुमराह होकर लड़ने और भड़कने की.

सायंकाल, शुक्रवार, 20 फरवरी को पं. दीन दयाल शोध संस्थान में ‘राजनीति के संत दीनदयाल जी’ उपन्यास का विमोचन हुआ. इस मौके पर मुख्य अतिथि और इस मौके पर भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और सांसद श्री प्रभात झा ने कहा कि ये पुस्तक बहुत ही सरल और जनभाषा में लेखक और संघ कार्यकर्ता गुलरेज शेख ने लिखी है. उन्होंने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय को पढ़ने वाला जीवन में कभी विषाद में नहीं जा सकता. पंडित जी का दर्शन न केवल पढ़ने वाला है, बल्कि पढ़कर जीने वाला दर्शन है. उन्होंने यह भी कहा कि पंडित जी का दर्शन राष्ट्रवाद से भरा था और उनके जीवन के तथ्यों को इस पुस्तक में संजोया गया है.
राज्य सभा सदस्य डॉ. महेश चंद्र शर्मा ने कहा कि पंडत जी हमेशा प्रसिद्धि से स्वयं को हमेशा दूर रखते थे. नके समय में लोग आश्चर्य करते थे कि जनसंघ जैसा राजनीतिक दल आगे कैसे चल रहा है. वे लोगों को कार्य करके प्रेरणा देते थे. गोवा मुक्ति आंदोलन में उन्होंने विशेष भूमिका निभाई थी. उन्होंने कहा कि हिन्दू राष्ट्र बनाने की बात नासमझी है, राष्ट्र बनाये नहीं जाते, वह पैदा होते हैं.
राष्ट्रवादी विचारक पद्म श्री मुज़फ्फर हुसैन ने सभी को इस पुस्तक को पढ़ने की सलाह दी. इस उपन्यास के लेखक श्री गुलरेज शेख ने कहा कि इस उपन्यास को लिखने की प्रेरणा इन्द्रेश जी ने दी. आभार ज्ञापन करते हुए श्री गुलरेज शेख ने कहा कि वे महसूस करते हैं कि दीनयाल जी सिर्फ व्यक्ति नहीं बल्कि अप्रतिम एवं कल्याणकारी विचार का नाम है. इसलिये पुस्तक में उन्होंने उनके व्यक्तित्व से जुड़े सभी तथ्यों को उपन्यास में जोड़ने की कोशिश की है.
समारोह में संघ के कार्यकर्ताओं सहित मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के कार्यकर्ता प्रकाशक मनाकिन प्रेस हाउस के मीनू भाई सम्मिलित हुये.

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें