रविवार, 1 फ़रवरी 2015

दहेज मांगा तो हुई मारपीट, बिना दुल्हन लौटी बारात

उत्तराखंड। हरिद्वार। उत्तराखंड में हरिद्वार स्थित शिवालिक नगर के सामुदायिक केंद्र में रात को बारातियों और घरातियों में जमकर लात-घूसे चले। दहेज मांगने के आरोप में पुलिस ने दूल्हा, उसके पिता और दो भाईयों को हिरासत में लिया। पूरी रात चारों को कोतवाली में काटनी पड़ी। सुबह कोतवाली में भीड़ जुटने पर दोनों पक्षों में फिर नोकझोंक शुरू हो गई। मामला शांत कर पुलिस ने दोनों पक्षों की तहरीर पर जांच शुरू कर दी है। उसके बाद वर-वधु पक्ष अपने-अपने घर लौट गए। भेल के सेक्टर पांच में विद्या मंदिर इंटर कालेज में कार्यरत सुनील कुमार परिवार के साथ गांव बौंगला (बहादराबाद) में रहते हैं।


सिडकुल की एक औद्योगिक इकाई में कार्यरत उनके पुत्र विनीत का विवाह मेरठ के मवाना निवासी सतीश शर्मा की बेटी रेशू से तय हुआ था। दोनों पक्षों में विवाह समारोह हरिद्वार में संपन्न कराने पर सहमति बनी थी। शिवालिक नगर फेज दो के सामुदायिक केंद्र में बृहस्पतिवार शाम दूल्हा पक्ष बारात लेकर पहुंचा। कुछ रस्में निपटाने और खाना खाने के बाद अधिकतर बाराती अपने-अपने घर लौट गए। देर रात जयमाला से ठीक पहले दुल्हन एवं दूल्हे पक्ष के बीच मारपीट शुरू हो गई।


फेसबुक पर डाली देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीर, बवाल

उत्तराखंड। पिथौरागढ़ में फेसबुक में देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीर डाल कर और हनुमान चालीसा की अश्लील शब्दों में व्याख्या कर एक व्यक्ति धार्मिक भावनाओं को आहत कर रहा है। इसके विरोध में हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने कोतवाली के सामने प्रदर्शन किया। आरोपी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने की मांग की। पुलिस ने इस मामले में आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। भाजयुमो के प्रदेश मंत्री बसंत जोशी के नेतृत्व में कोतवाली पहुंचे लोगों ने कोतवाल गणेश सिंह सामंत को दी तहरीर में कहा है कि हसनैन आलम नामक व्यक्ति ने देवी-देवताओं की आपत्तिजनक तस्वीर बनाकर फेसबुक पर डाली है। देवी-देवताओं के लिए अश्लील शब्दों का प्रयोग किया है। यही नहीं हनुमान चालीसा के शब्दों को तोड़मरोड़ कर अश्लील शब्दों का प्रयोग किया गया है। कहा है कि ऐसे कृत्य से हिंदू समाज आहत हुआ है, ऐसे व्यक्ति का पता लगाकर उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जानी चाहिए।

इन लोगों ने फेसबुक से डाउनलोड कर आपत्तिजनक टिप्पणियों और फोटो की प्रतियां भी पुलिस को सौंपी हैं। कोतवाल ने बताया कि आईटी एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है। फेसबुक आईडी में संबंधित व्यक्ति का पता नहीं है। मामले की छानबीन की जा रही है। आईडी के संबंधित का पता लगाया जाएगा। प्रदर्शन में दुर्गा धामी, प्रदीप पांडे, एबीवीपी के जिला संयोजक रोहित ओझा, हरीश मेहता, नारायण परिहार आदि शामिल थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें