मंगलवार, 29 दिसंबर 2015

KNOW ABOUT RSS के लोकार्पण

प्रेस-विज्ञप्ति
डिस्कोर्स इस देश की सबसे बड़ी समस्या है ! - श्री अरुण कुमार जी
संघ एक गोल है मतलब मूवमेंट है अर्थात् समाज है।
नई दिल्ली, 24 दिसम्बर, 2015 (इंविसंके)। संघ एक संस्था नहीं है। यह भ्रम जिनके भी अंदर है वो अपने अंदर से निकाल दें। क्योंकि, “संघ “एक गोल (लक्ष्य) है मतलब मूवमेंट है अर्थात् समाज है।” संघ शुरू से ही ‘समाज में रहकर, समाज निर्माण’ किया है। लोगों में संघ को लेकर एक और भ्रम है, संघ मुद्दों पर कार्य करता है, यह गलत है। मैं बता दूँ, “संघ के पास अपना कोई मुद्दा नहीं है।”

शनिवार, 19 दिसंबर 2015

बांग्लादेश में हिन्दुओं के उत्पीड़न से आहत हिन्दू मंच ने किया विरोध प्रदर्शन

- प्रेस विज्ञप्ति -
बांग्लादेश में हिन्दुओं के उत्पीड़न से आहत हिन्दू मंच ने किया विरोध प्रदर्शन

नई दिल्ली, 19 दिसम्बर 2015 . बांग्लादेश में हिन्दू विरोधी गतिविधियों के तहत हिन्दू मंदिरों पर तोड़फोड़ और धर्मान्तरण के विरोध में हिन्दू मंच दिल्ली के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन कर विदेश मंत्रालय से इसे रोकने हेतु कार्यवाही की मांग की. हिन्दू मंच दिल्ली प्रान्त के अध्यक्ष श्री अनिल कुमार त्रिपाठी ने बताया कि बांग्लादेश में हिन्दुओं के विरुद्ध बढ़ रही हिंसक एवं आतंकवादी घटनाओं से भारत का सारा हिन्दू समाज क्षुब्ध व आहत हुआ है. इन घटनाओं से हिन्दू समाज में आक्रोश है, जिसके लिए जंतर मंतर पर आज विशाल धरना प्रदर्शन का आयोजन किया गया.

गुरुवार, 17 दिसंबर 2015

जानकारियों व सूचनाओं के विकृतीकरण से नहीं हो पाया है कश्मीर समस्या का समाधान : अरुण कुमार जी

 राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सम्पर्क प्रमुख श्री अरुण जी ने दीन दयाल शोध संस्थान में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बहुआयामी व्यक्तित्व व कृतत्व पर आधारित डॉ. ऋतु कोहली की पुस्तक “डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और कश्मीर समस्या” का लोकार्पण किया. कार्यक्रम की रिपोर्ट:
नई दिल्ली, (इंविसंके)। राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सम्पर्क प्रमुख तथा पूर्व में जम्मू-कश्मीर के प्रांत प्रचारक रहे श्री अरुण कुमार ने बताया कि जम्मू-कश्मीर में सूचनाओं, जानकारियों का विकृतिकरण हुआ है और देश में जम्मू-कश्मीर के बारे में जानकारियों का अभाव है। उन्होंने बताया कि जम्मू-कश्मीर को लेकर कुछ ठीक करना है तो सबसे पहले जम्मू-कश्मीर को लेकर एकेडमिक काम करने की आवश्यकता है। श्री अरुण जी ने दीन दयाल शोध संस्थान में डॉ. श्यामा प्रसाद मुखर्जी के बहुआयामी व्यक्तित्व व कृतत्व पर आधारित पुस्तक “डॉ. श्यामाप्रसाद मुखर्जी और कश्मीर समस्या” के लोकार्पण के अवसर पर अपने विचार प्रकट किये।

बुधवार, 9 दिसंबर 2015

अयोध्या आन्दोलन के पुरोधा श्री अशोक सिंहल जी का निधन

हिन्दू हृदय सम्राट और अयोध्या आन्दोलन के पुरोधा   श्री अशोक सिंहल जी का निधन

नब्बे के दशक में श्रीराम जन्मभूमि आन्दोलन जब अपने यौवन पर था, उन दिनों जिनकी सिंह गर्जना से रामभक्तों के हृदय हर्षित हो जाते थे, उन श्री अशोक सिंहल को संन्यासी भी कह सकते हैं और योद्धा भी; पर वे जीवन भर स्वयं को संघ का एक समर्पित प्रचारक ही मानते रहे।
    अशोक जी का जन्म आश्विन कृष्ण पंचमी (27 सितम्बर, 1926) को उ.प्र. के आगरा नगर में हुआ था। उनके पिता श्री महावीर सिंहल शासकीय सेवा में उच्च पद पर थे।

पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग मीराट

हाल मे एक पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग कि आयोजन किया गया था मीराट मे। उसि पत्रकारिता प्रशिक्षण वर्ग कि एक फटो देखें।

गुरुवार, 3 दिसंबर 2015

असहिष्णुता की साजिश पर प्रफुल्ल मेहता

देश असहिष्णुता की साजिश में तो नहीं!:इक बात मेरे दिल की
Proful Mehta

भारत का मीडिया भारत की सहिष्णुता , स्वतन्त्रता का भरपूर आनंद ले रहा लगता है। यदि भारतीय मीडिया की बात करे तो उसको देख कर लगता है इस देश के हालात नर्क से भी बदतर है। कई बार यह लगने लगता है कि यह दुस्प्रचार शायद विदेशी मीडिया कर रहा मगर कर भारतीय मीडिया रहा है।  अगर आप मीडिया की इस थोपे हुए विचार से ताल्लुक नहीं रखते तो आप असहिष्णु है।  मीडिया ने जो कह दिया वही सच है, आपको मानना ही पड़ेगा।

मंगलवार, 27 अक्तूबर 2015

व्यक्ति-निर्माण की पाठशाला है संघ : श्री राजकुमार

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, रायपुर महानगर
प्रेस—विज्ञप्ति
आरएसएस ने मनाया विजयादशमी उत्सव
व्यक्ति-निर्माण की पाठशाला है संघ : श्री राजकुमार
नगर के विभिन्न मार्गों में 500 तरूण स्वयंसेवकों ने किया पथ-संचलन

रायपुर. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का स्थापना दिवस तथा विजयादशमी उत्सव आज सप्रे शाला मैदान में प्रात:काल सम्पन्न हुआ। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के तौर पर उपस्थित संघ के क्षेत्र संपर्क प्रमुख श्री राजकुमार जी ने कहा कि यदि हिन्दु समाज छुआछूत, जातिवाद या संप्रदाय-भेद से ऊपर उठकर आगे बढ़े तो दुष्ट शक्तियां हतोत्साहित-पराजित हो सकेंगी।

स्त्रियों का जीवन प्रकाशित करना, यही सच्ची दीपावली

 - सुनीला सोवनी
जैसे ही आकाश में नीले काले मेघ गरजने लगते हैं सम्पूर्ण सृष्टि रोमांचित हो उठती है। धरती गाने लगती है। और फिर निर्मिती का वह आनंद चारों दिशाओं में फैलने लगता है। शस्य श्यामला धरती हरयाली साडी पहनकर वनस्पति, पशु-पक्षी सहित मानव जीवन को पुलकित, उलासित कर देती है। सृष्टि का यह आनंद उत्सव हर सजीव को समृद्ध बना देता है।

गुरुवार, 22 अक्तूबर 2015

डॉ. मोहन जी भागवत कहीन

मुंबई (विसंकें). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत ने कहा कि आम आदमी जब कुछ निश्चित करने की सोच ले तो वह नर का नारायण हो सकता है तथा नराधम भी हो सकता है. नर का नारायण होने के लिए कठोर मेहनत के बजाय दूसरा मार्ग उपलब्ध नहीं है. मात्र उन प्रयास तथा कष्ट करने में आम आदमी पीछे रहता है. इसका कारण बल नहीं तो साहस का अभाव है. डॉ. अजित फड़के ने अपने जीवन में केवल लोकसंग्रह ही नहीं किया, बल्कि लोगों के सामने आदर्श उदाहरण प्रस्थापित करने वाला जीवन व्यतीत किया है.

गुरुवार, 1 अक्तूबर 2015

वैदिक संस्कृति व समृद्धि के प्रणेता - महाराज अग्रसेन

-विनोद  बंसल
Writer
द्वापर युग के अन्त और कलयुग के प्रारम्भ में एक ऐसे महापुरुष का प्रादुर्भाव हुआ जिसने न सिर्फ़ भारत में एक गणतांत्रिक शासन व्यवस्था, उत्तम सिंचाई व्यवस्था, समाजवाद, समरसता व समानता का पाठ पढाया वल्कि सच्चे राम राज्य की स्थापना कर ऐसे संस्कारी पुत्र दिए जो आज भी पूरे विश्व का भरण पोषण कर अपना कीर्तिमान स्थापित कर रहे हैं। विश्व का शायद ही कोई कोना होगा जहां की प्रगति और उन्नति में किसी अग्रवाल की भूमिका न हो। अपनी मेहनत, लगन व बुद्धि कौशल के लिए प्रसिद्ध अग्रवाल समाज के लोग जहां भी है वे सब उन्हीं महाराज अग्रसेन के वंशज हैं।

बुधवार, 30 सितंबर 2015

गणेश विसर्जन की शोभायात्रा पर फेंका गोमांस, शहर में तनाव

September 29, 2015
हिंदूं भाइओ, ध्यान में रखे कि ऐसी घटनाएं करनेवाले जानबूझ कर आपकी धार्मिक भावनाएं आहत करना चाहते है । ऐसी घटनाआें को रोकने के लिए उत्तरप्रदेश की समाजवादी पार्टी की सरकार कुछ नहीं करेगी । यह स्थिती बदलने हेतु अब हिन्दुओ को ही संगठित होना चाहिए !

शहर के मिश्रित आबादी वाले दो अतिसंवेदनशील इलाके मंटोला के नाला महावीर की वाल्मीकि बस्ती और ईदगाह (कठघर) के मोहल्ला सराय में रविवार को जिहादीयों ने सांप्रदायिक बवाल खडा कर दिया।
वाल्मीकि बस्ती में पूर्वाह्न ११ बजे गणपति विसर्जन शोभायात्रा पर गोमांस का टुकड़ा फेंके जाने के आरोप के बाद दो समुदायों में टकराव हुआ। सराय में शाम छह बजे गणपति पंडाल के बाहर वाहनों पर लगे लाउडस्पीकर बंद कराने की कोशिश पर हालात बिगड़ गए। दोनों पक्षों में हुए पथराव में महिला समेत तीन लोग घायल हो गए।

शुक्रवार, 25 सितंबर 2015

महाराजा श्री हरी सिंह जयन्ती समारोह

जम्मू-कश्मीर के महाराजा श्री हरी सिंह जयन्ती समारोह 

नई दिल्ली, जम्मू-कश्मीर पीपल्स फोरम द्वारा के तत्वाधान में जम्मू-कश्मीर के महाराजा श्री हरी सिंह जी का जयन्ती समारोह पंडित दीनदयाल शोध संस्थान, नई दिल्ली में दिनांक 23 सितम्बर को आयोजित किया गया। जिसकी अध्यक्षता श्री अजातशत्रु (एमएलसी, जम्मू-कश्मीर, पौत्र, महाराजा) द्वारा किया गया। जिसके मुख्य अतिथि डॉ. जीतेन्द्र सिंह (राज्यमंत्री, प्रधानमंत्री कार्यालय, भारत सरकार) और विशिष्ट अतिथि महाश्य धर्मपाल जी (चेयरमैन, एमडीएच) एवं बतौर वक्ता वरिष्ट पत्रकार आशुतोष भट्टनागर थे। इस कार्यक्रम के स्वागताध्यक्ष डॉ. स्वदेश रत्न (अध्यक्ष, मीरपुर बलिदान भवन समिति) ने किया और विषय प्रस्तावना श्री महेंद्र मेहता (संयोजक : जम्मू-कश्मीर पीपल्स फोरम) द्वारा किया गया। 

विहिप के संयुक्त प्रैस वक्तव्य

विश्व हिन्दू परिषद के कार्याध्यक्ष डाॅ0 प्रवीणभाई तोगडि़या एवं  संयुक्त महामंत्री डाॅ0 सुरेन्द्र कुमार जैन का संयुक्त प्रैस वक्तव्य
नई दिल्ली, 23 सितम्बर। विश्व हिन्दू परिषद मुम्बई उच्च न्यायालय के इस निर्णय कि, ‘‘बकरीद पर भी गौहत्या पर से पाबंदी नहीं हटेगी’’ का हार्दिक स्वागत करती है। न्यायपालिका के निर्णय के बाद कोई विवाद नहीं रहना चाहिए; परन्तु अब न्यायपालिका की दुहाई देने वाले तथाकथित सैक्युलरवादियों और मुस्लिम समाज के एक वर्ग ने इस निर्णय का विरोध करते हुए सब प्रकार की सीमाएं लांघ दी है, जो अत्यन्त दुःखदायी है।

रविवार, 20 सितंबर 2015

सम-सामयिक विषय पर एक लेख

देश पहचान गया मगर आप नहीं       लेखक : अनिल द्विवेदी

संदर्भ : राहुल गांधी और लालू प्रसाद यादव का यह सवाल कि आरएसएस में महिलाओं को तवज्जो क्यों नही मिल रही?
अजब संयोग कह लीजिए कि जिस दिन बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय राजनीति के स्थायी व्यँगय बन चुके लालू प्रसाद यादव, आरएसएस में महिला सरसंघचालक अब तक ना होने का मुद्दा उठा रहे थे,

शुक्रवार, 11 सितंबर 2015

जिहादी आतंकवाद की पिछे

65 के आईने में पाकिस्तान

" मैं अयूब खान से मिलने गया और उनसे कहा कि जम्मू-कश्मीर के जवाब में हिन्दुस्तान लाहौर सेक्टर पर हमला करेगा।  अयूब खान बोले किमुझे विदेश मंत्रालय ने भरोसा दिलाया है कि  हिन्दुस्तान हमला नहीं करेगा।  मैंने कहा, कमाल की बात है! क्यों नहीं करेगा? 3 सितम्बर को हमारी ये बात हुई है, 6 सितम्बर को हिन्दुस्तान ने हमला बोल दिया। बेहद अहमकाना सोच थी। खुदा का शुक्र है कि पाकिस्तान बच गया।"
 -  रिटायर्ड चीफ ऑफ़ स्टाफ असगर खान,पाकिस्तान वायुसेना

मंगलवार, 8 सितंबर 2015

विहिप का केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल बैठक

विश्व हिन्दू परिषद, केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल बैठक-5 सितम्बर, 2015-कुम्भ मेला क्षेत्र,
श्रीपंच दशनाम जूना अखाड़ा, त्र्यम्बकेश्वर, नासिक (महाराष्ट्र)
दिनांक 5 सितम्बर, 2015 को जूना पीठाधीश्वर पूज्य स्वामी अवधेशानंद गिरि जी महाराज की अध्यक्षता में विश्व हिन्दू परिषद के केन्द्रीय मार्गदर्शक मण्डल की बैठक नासिक कुंभ क्षेत्र त्र्यम्बकेश्वर में श्रीपंच दशनाम जूना अखाडा में सम्पन्न हुई जिसमें निरंजनी पीठाधीश्वर पूज्य श्री पुण्यानंद जी महाराज, ज0गु0 रामानुजाचार्य श्री कौशलेन्द्र प्रपन्नाचार्य, ज0गु0 शंकराचार्य स्वामी नरेन्द्रानंद सरस्वती जी,

RSS समन्वय वैठक

भारतीय चिंतन के आधार पर हो देश का आर्थिक व शिक्षित विकास – दत्तात्रेय होसबले जी
4 सितम्बर  नई दिल्ली. मध्यांचल भवन नई दिल्ली में 2 सितंबर से शुरू हुई संघ की समन्वय बैठक आज संपन्न हो गयी. बैठक में 15 संगठनों के 93 प्रमुख कार्यकर्ता तीन दिन तक उपस्थित रहे. 04 सितंबर को अंतिम दिन बैठक के अंतिम सत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी उपस्थित रहे.

सोमवार, 31 अगस्त 2015

संस्कृत के कारण ही भारत एक है - डॉ. महेश शर्मा

नई दिल्ली. मानव संसाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार के मार्गदर्शन तथा राष्ट्रीय संस्कृत संस्थान के कुलपति, प्रसिद्ध शिक्षाविद् प्रो. परमेश्वर नारायण शास्त्री की अगुवाई में संस्कृत के चौदह संस्कृत सेवी संस्थाओं के चिंतन-सहयोग से “संस्कृत सप्ताह उत्सव” का शुभारम्भ 26 अगस्त को नई दिल्ली स्थित मावलंकर प्रेक्षागृह में में हुआ. इसमें बतौर मुख्य अतिथि श्री एस. रामदुरई, अध्यक्ष राष्ट्रीय कौशल विकास निगम दिल्ली, सारस्वत अतिथि प्रो. अनिल डी. सहस्रबुद्धे, अध्यक्ष अखिल भारतीय तकनीकि शिक्षा परिषद् दिल्ली तथा अध्यक्ष डॉ. महेश शर्मा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार के रूप में उपस्थित रहे.

सोमवार, 24 अगस्त 2015

आगरा विश्व संवाद केन्द्र का उद्घाटन

आगरा, 23 अगस्त । आगरा प्रान्त में नये विश्व संवाद केन्द्र का उद्घाटन तय तिथि के अनुसार 22 अगस्त को संयुक्त क्षेत्र प्राचर प्रमुख )उत्तर प्रदेश, उत्तराखण्ड) कृपाशंकर द्वारा किया गया। कृपाशंकर ने उद्घाटन कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए कहा कि विश्व संवाद केन्द्र एक ऐसा केन्द्र है जहां से राष्ट्रीय विचारों का आदन-प्रदान किया जाता है।

यह कार्य संजय पैलेस के निकट स्थित पुराने विश्व संवाद केन्द्र से अब तक किया जाता था।

शनिवार, 22 अगस्त 2015

धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में प्रशासन का हस्तक्षेप दुखद और भावनाओं को ठेंस पहुँचानेवाला : डॉ प्रवीण तोगड़िया

धार्मिक एवं सांस्कृतिक गतिविधियों में प्रशासन का हस्तक्षेप दुखद और भावनाओं को ठेंस पहुँचानेवाला : डॉ प्रवीण तोगड़िया 
दिल्ली, २० अगस्त, २०१५  सन्माननीय राजस्थान उच्च न्यायालय के संथारा पर प्रतिबन्ध लगाने के निर्णय पर दुःख और आक्रोश व्यक्त करते हुए विश्व हिन्दू परिषद के आंतरराष्ट्रीय कार्याध्यक्ष डॉ प्रवीण तोगड़िया ने कहा, "भारत में प्राचीन समय से समृद्ध धार्मिक एवं सांस्कृतिक परम्पराएँ, गतिविधियाँ, धर्म स्थान, और श्रद्धाएँ हैं।

Suresh Chiplunkar कहीन

पढ़े  ICHR में बौद्धिक लुटेरे एक शत प्रतिशत सोचने वाली लेख।
ICHR में बौद्धिक लुटेरे
क्या आपने कभी सुना है कि सरकार ने एक पुस्तक लिखवाने के लिए चालीस लाख रूपए खर्च कर दिए हों? या फिर कभी किसी ऐसे बौद्धिक प्रोजेक्ट(?) के बारे में सुना है जो पिछले 43 वर्ष से चल रहा हो, जिस पर करोड़ों रूपए खर्च हो चुके हों और अभी भी पूरा नहीं हुआ हो?

मंगलवार, 18 अगस्त 2015

डॉ. आंबेडकर को पढना आवश्यक : डॉ. मोहन राव भागवत

सामजिक विषमता मिटाने के लिये डॉ. आंबेडकर को पढना आवश्यक : डॉ. मोहन राव भागवत
नई दिल्ली. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक डॉ. मोहन राव भागवत जी ने कहा कि समाज में व्याप्त जाति के आपसी भेदों के कारण पूर्व काल में हमने अपना देश  चांदी की तश्तरी में सजाकर बाहरी लोगों को सौंप दिया. इस विषमता को समाज से दूर करना है तो डॉ. आंबेडकर जी के विचारों को पढ़ना होगा, उन्हें समझना होगा. उन्हें समझे बिना, जाने बिना, पढ़े बिना पूर्णता नहीं आ पाएगी.

गुरुवार, 13 अगस्त 2015

दिग्विजय से पायें विश्व विजय की प्रेरणा

'मन के हारे हार है मन के जीते जीत’ ये कहावत जितनी व्यक्ति पर लागू होती है, उतनी ही समाज पर भी लागू होती है। विजय की आकांक्षा व विजय की अनुभूति समाजमन को बल देते है। जब समूचा राष्ट्र ही अपनी शक्तियों को भूलने के कारण आत्मग्लानि से ग्रस्त हो जाता है तब कोई अद्वितीय विजय ही उसे इस मानसिक लकवे से बाहर ला सकती हैं।

संस्कृतभारती से समाचार

नमस्ते!
२३ अगस्त, २०१५ दिन रविवार को धरती की सबसे शुद्ध और वैज्ञानिक संस्कृत भाषा को देश के लाखों घरों तक पहुँचाने के लिये अब तक का सबसे बड़ा देशव्यापी अभियान
'गृहं गृहं प्रति संस्कृतम्' आयोजित हो रहा है।
जिसमें लाखों कार्यकर्ता , शिक्षक और छात्र एक दिन का पूर्ण समय  संस्कृत के लिए समर्पित करेंगे।

अपने-अपने घरों से निकलकर प्रातः ८ बजे से सायं ७ बजे तक पूरे दिन अपनी गली, मोहल्ले और बस्ती के अधिकतम घरों में संस्कृत का प्रसार करेंगे और व्यावहारिक संस्कृत शब्दों  जैसे - नमस्ते,  हरिओम, मम नाम, स्वागतम्, धन्यवाद: आदि का प्रयोग करेंगे। संपर्क करने वाले को संस्कृत की जितनी जानकारी हो उतनी उसे सम्पर्कित घर में बोलनी है। सम्पर्क के समय "वदतु संस्कृतम्" पुस्तक सशुल्क ( सहयोग राशि 5 ₹/. ) और प्रचार पत्रक का वितरण भी होगा।

आप संस्कृत के अनन्य अनुरागी हैं। इसलिये यदि आप भी इस महाभियान में सम्मिलित होंगे तो यह अभियान अधिक व्यापी होगा। अत: आप अपने वसति के वसति प्रमुख का दायित्व निर्वहन करें यह निवेदन है। अभियान के लिए ३- ४ लोगों के सम्पर्क गण की रचना भी करें।

आप वाट्सएप पर अपने परिचितों को सन्देश भेजकर या दूरवाणी पर बातकर उन्हे अभियान में सम्मिलित होने के लिए प्रेरित कर सकते हैं। आपका तन-मन-धन तीनों देवभाषा के पुनीत कार्य में आवश्यक है।

।।लसतु संस्कृतं चिरं गृहे गृहे च पुनरपि।।

संस्कृतभारती

रविवार, 9 अगस्त 2015

जल, जीवन और गंगा - एक आलेख

साल 2हज़ार से प्रतिवर्ष एक बार टेम्स के किनारों पर रहने वाले ब्रिटिश टेम्स नदी की सफाई के लिए जुटते हैं।सफाई के लिए जरूरी सारे साधन आम लोग स्वयं ही लेकर आते हैं। ऐसी इच्छाशक्ति भारत में संभव नहीं है क्या ? कुंभ के लिए बिना न्यौते के करोड़ों लोग पहुँच सकते हैं। मौनी अमावस्या , नरक चौदस , गंगा दशहरा ,ग्रहण आदि के समय करोड़ों लोग नदियों में डुबकी लगाने पहुँच सकते हैं तो यदि इस आस्था को आधार बनाकर जान जागरण किया जाए तो करोड़ों हाथ नदियों की स्वच्छता के लिए क्यों नहीं बढ़ सकते ?

सोमवार, 3 अगस्त 2015

लक्ष्मीप्रसाद जायसवाल कहीन

विकास की बदलती अवधारणा पर्यावरण को कर रही दूषित: लक्ष्मीप्रसाद जायसवाल 
देेहरादून । राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रान्त कार्यवाह लक्ष्मीप्रसाद जायसवाल ने विवेकानंद शाखा के स्वयंसेवकों के साथ आज श्री रवि मित्तल मेमोरियल पब्लिक ऐकेडमी के परिसर में पौध रोपण किया। इस दौरान उन्होंने स्वयंसेवकों को पर्यावरण की महत्ता के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि आज पूरे विश्व में पर्यावरण पर संकट है। वैज्ञानिकों का मानना है कि जो प्राकृतिक प्रदत्त चीजे जैसे वायु, जल, अग्नि, पृथ्वी, वनस्पति, आदि ये सब दूषित हो रही है।

सोमवार, 20 जुलाई 2015

शिक्षा का मूल उद्देश्य व्यक्तित्व विकास और चरित्र निर्माण होना चाहिए

 – अतुल कोठारी
अतुल कोठारी
स्वतंत्रता पश्चात हमें शिक्षा क्षेत्र में किस दिशा में बढ़ना था और हम किस तरफ चल पड़े, हमारी वर्तमान शिक्षा नीति जीवन के मूल उद्देश्यों को पूरा कर पा रही है अथवा नहीं, मातृभाषा केवल भावनात्मक विषय नहीं है, बल्कि मातृभाषा में शिक्षा पर जोर देने के पीछे वैज्ञानिक कारण विद्यमान हैं, भाषा न केवल ज्ञानार्जन का माध्यम है, अपितु संस्कार व संस्कृति के प्रसार का माध्यम भी है,  विदेशी भाषा में शिक्षा के प्रभाव,

राष्ट्रीयता की रक्षा, समरसता के बंधन से !

 - प्रमोद बापट
अपने हिंदू समाज के व्यक्तिगत तथा पारिवारिक जीवन में रीति, प्रथा तथा परंपरा से चलती आयी पद्धतियों का एक विशेष महत्व है. अपने देश की भौगोलिक विशालता तथा भाषाई विविधता होते हुए भी समूचे देश में विविध पर्व, त्यौहार, उत्सव आदि सभी सामुहिक रीति से मनाये जाने वाले उपक्रमों में समान सांस्कृतिक भाव अनुभव किया जाता है. इसी समान अनुभव को 'हिंदुत्व' नाम दिया जा सकता है. कारण 'हिंदुत्व' यह किसी उपासना पद्धति का नाम नही है. सर्वोच्च न्यायालय ने भी इसी कारण 'हिंदुत्व' को एक जीवनशैली बताया है.

शुक्रवार, 17 जुलाई 2015

सच्चे कर्म-योगी संत थे मा सोहन सिंह जी

- विनोद बंसल
मो 9810949109
अणु डाक : vinodbansal01@gmail.com

विनोद बंसल
आज के जमाने में यह बात बडी काल्पनिक सी लगती है कि जब कोई कहे कि एक व्यक्ति जिसने अपने जीवन के 92 वर्ष देश को समर्पित कर दिए और आजीवन न शादी की, न अपना घर बनाया, न ग़ाडी, न पैसा जोडा, न कोई बैंक खाता खोला किन्तु अनेक विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए भी देश भक्तों की एक बडी फ़ौज तैयार कर दी। गत चार जुलाई को उनके निधन के बाद ज्ञात हुआ कि उनकी व्यक्तिगत भौतिक पूंजी के नाम पर उनके कक्ष से मिला सिर्फ़ एक थैला और उसमें रखे दो जोडी पहनने के वस्त्र। 1943 से लगातार 72 वर्षों तक राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रचारक के रूप में देश भर में भ्रमण कर जन-जन के हृदय में पैठ बिठाने वाले श्री सोहन सिंह जी के बारे में कुछ विस्तृत जानने की उत्कंठावश, उनके निधन का समाचार पाते ही, जब पांच जुलाई को सुबह मैंने गूगल किया तो हत् प्रभ रह गया।

रविवार, 12 जुलाई 2015

शाखा पर सीपीआई (एम) विधायक के नेतृव में हमला, दो विस्तारकों को जबरन ले गए

त्रिपुरा : नलचर किलामुरा एसबी स्कूल के मैदान में लगने वाली राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा पर सीपीआई (एम) विधायक के नेतृत्व में कुछ असामाजिक तत्वों ने 06 जुलाई को सुबह हमला कर दिया. शाखा पर उपस्थित स्वयंसवेकों के साथ गाली गलौच व मारपीट की. इतना ही नहीं शाखा के दौरान उपस्थित दो विस्तारकों को जबरन बंधक बनाकर अपने साथ ले गए, विस्तारकों को डराया-धमकाया गया. दोनों को कुछ घंटों के पश्चात पुलिस की मदद से छुड़वाया गया.
नलचर किलामुरा एसबी स्कूल के मैदान में लगने वाली राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की शाखा पर सीपीआई (एम) विधायक के नेतृत्व में कुछ असामाजिक तत्वों ने 06 जुलाई को सुबह हमला कर दिया. शाखा पर उपस्थित स्वयंसवेकों के साथ गाली गलौच व मारपीट की. इतना ही नहीं शाखा के दौरान उपस्थित दो विस्तारकों को जबरन बंधक बनाकर अपने साथ ले गए, विस्तारकों को डराया-धमकाया गया. दोनों को कुछ घंटों के पश्चात पुलिस की मदद से छुड़वाया गया.

शनिवार, 11 जुलाई 2015

भारत : शिक्षण मंडल ने विकसित की भावी शिक्षा की रूपरेखा

 नई दिल्ली. भारत में 4000 से अधिक शिक्षाविदों के विचारों को संकलित कर भारतीय शिक्षण मंडल ने एक समग्र एवं एकात्म शिक्षा के प्रारूप ‘‘भारतीय शिक्षण रूपरेखा का निर्माण किया. वर्तमान में इस पर राष्ट्रव्यापी अभिमत संग्रह अभियान चल रहा है. यह जानकारी भारतीय शिक्षण मंडल के सह संगठन मंत्री श्री मुकुल कानितकर ने पत्रकारों के सम्मुख प्रेस वार्ता में रखी. प्रेस वार्ता में उनके साथ मंडल के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. मोहन लाल छीपा व उपाध्यक्ष डॉ. बी.एल. नाटीया व सांसद मनोज तिवारी उपस्थित थे.

जनसंख्या नियंत्रण से अधिक जन-विकास आवश्यक : विहिप

विश्व जनसंख्या दिवस पर किया जन-विकास यज्ञ

नई दिल्ली। जुलाई 11, 2015।  विश्व जनसंख्या दिवस पर आज विश्व हिन्दू परिषद की प्रेरणा से जन विकास यज्ञ का आयोजन कर “कृणवन्तो विश्वमार्यम” यानि विश्व को श्रेष्ठ बनाने का संकल्प लिया गया। यज्ञोपरान्त सम्बोधित करते हुए विहिप प्रवक्ता श्री विनोद बंसल ने कहा कि जनसंख्या दिवस पर आज चारों ओर जनसंख्या नियंत्रण की बात तो हो रही है किन्तु असली जन-विकास का मुद्दा कहीं न कहीं गौण होता जा रहा है।

गुरुवार, 2 जुलाई 2015

विश्व हिन्दू परिषद केन्द्रीय प्रबंध समिति की बैठक

विश्व हिन्दू परिषद केन्द्रीय प्रबंध समिति की बैठक  दिनांक 27, 28 जून, 2015 को भीलवाड़ा राजस्थान में सम्पन्न हुई। भारत में स्वेत क्रांति और जमीन, जंगल, जल, कृषि, ग्राम और किसान इन सबको एक साथ विकास के लिए गोवंश की आवश्यकता सभी पदाधिकारियों ने अनुभव की। इस संबंध में एक प्रस्ताव पारित किया गया। विहिप के महामंत्री चंपतराय जी ने बैठक में प्रतिवेदन प्रस्तुत किया. उन्होंने जनवरी से जून 2015 तक के कार्य का प्रतिवेदन रखा

बुधवार, 24 जून 2015

बजरंग दल दिल्ली का प्रशिक्षण शिविर

योग, ध्यान, प्राणायाम व आतंकवाद के विरुद्ध प्रदर्शन से संपन्न हुआ बजरंग दल दिल्ली का प्रशिक्षण शिविर
नई दिल्ली जून 21, 2015। योग, ध्यान, प्राणायाम तथा आतंकवाद के विरुद्ध लडाई के प्रदर्शन के साथ ही बजरंग दल दिल्ली के सप्ताह भर चले शौर्य प्रशिक्षण शिविर का आज समापन हो गया। इस अवसर पर बोलते हुए विहिप के केन्द्रीय मंत्री श्री राजेन्द्र सिंह पंकज ने कहा कि यह एक संयोग ही है कि दिल्ली प्रान्त के इस शिविर का समापन उस दिन हो रहा है जब भारतीय संस्कृति के महा पर्व योग दिवस को पूरा विश्व मना रहा है। जहां डिस्को, ड्रिन्क व ड्रग्स की संस्कृति ने आज देश के असंख्य नौजवानों को जकड़ रखा है वहीं बजरंग दल ने योग, ध्यान, प्राणायाम व सूर्य नमस्कार जैसे अनेक माध्यमों से उनके अन्दर सेवा, सुरक्षा, संस्कार और आत्म स्वाभिमान का भाव जागृत करने का अनुपम कार्य किया है।

गुरुवार, 18 जून 2015

चित्त की वृत्तियों का निरोध ही योग है

योगश्चित वृत्ति निरोध:' अर्थात चित्त की वृत्तियों का निरोध ही योग है। यदि साधारण शब्दों में कहें तो मन जो कि चंचल स्वभाव का होता है और उसमें उपस्थित जो दोष होते हैं उनको अपने नियंत्रण में रखने की क्रिया को योग कहा जाता है। यदि दूसरे शब्दों में कहें तो जिस माध्यम द्वारा आत्मा का परमात्मा से मिलना हो सकता है उसी को योग कहते हैं। पतंजलि योग सूत्र के अनुसार योग का अर्थ है 'समाधि' जो योग की अंतिम अवस्था है। दरअसल योग क्या है यह हमारे शास्त्रों में पहले से वर्णित किया गया है, लेकिन हमारे शास्त्रों में यह जानकारी बिखरी हुई थी।

रविवार, 14 जून 2015

गुरु पूर्णिमा - गुरु के प्रति आभार का दिन

गुरुर्ब्रह्मा गुरुर्विष्णु: गुरुर्देवो महेश्वर:।
गुरु साक्षात् परम्ब्रह्म तस्मै श्री गुरुवे नम:।।
भारतीय संस्कृति में अनादिकाल से ही गुरु को विशेष दर्जा प्राप्त है। यहां गुरु-शिष्य परंपरा सदियों पुरानी है। हमारे यहां गुरु को ईश्वर से भी ऊंचा स्थान प्राप्त है। गुरु को ईश्वर का साक्षात्कार करवाने वाला माना गया है। गुरु की महानता का परिचय संत कबीर के इस दोहे से हो जाता है -

एकरस समाज बनाने के लिये जाति से ऊपर उठें : अशोक बेरी

नई दिल्ली, 13 जून(इंविसंके). राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की अखिल भारतीय कार्यकारिणी के सदस्य श्री अशोक जी बेरी ने आज यहां स्वयंसेवकों से देश में चातुरवर्ण्य जाति-व्यवस्था को सामाजिक समरसता के लिये अत्यंत बाधक बताते हुए राष्ट्रबोध जागरण के काम में जुटने का आह्वान किया और कहा कि संघ समतायुक्त, शोषणमुक्त समाज का निर्माण चाहता है, इसके लिये सभी का योगदान अपेक्षित है.

शनिवार, 13 जून 2015

सोशल मीडिया से सम्बंधित कार्यकर्ताओं की अ. भा. बैठक 11 व 12 जुलाई, 2015

राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ

केशव कुञ्ज, झण्डेवाला, देशबन्धु गुप्त मार्ग, नई दिल्ली - 110055

बंधुवर,
सस्नेह नमस्कार.

आशा है ईश्वर की कृपा से आप सभी कुशल होंगे. सोशल मीडिया से सम्बंधित कार्यकर्ताओं की अ. भा. बैठक 11 व 12 जुलाई, 2015 का परिपत्र आपको प्राप्त हुआ होगा. उस परिपत्र में स्थान का उल्लेख नहीं था, इसलिए यह पत्र भेज रहे हैं.

रविवार, 7 जून 2015

दुर्गा वाहिनी ने सिखाए आत्म रक्षा के गुण

नारी स्वाभिमान सम्मान व संस्कृति रक्षार्थ जुटी है दुर्गा वाहिनी:मीनाक्षी ताई
सप्ताह भर के शिविर में दुर्गा वाहिनी ने सिखाए आत्म रक्षा के गुण   नई दिल्ली, जून 7, 2015। विश्व हिन्दू परिषद की महिला शाखा दुर्गा वाहिनी द्वारा चलाए गए सप्ताह भर के शौर्य प्रशिक्षण शिविर का आज समापन हो गया। इस अवसर पर मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए मातृ शक्ति की राष्ट्रीय संयोजिका व विहिप की केन्द्रीय मंत्री मीनाक्षी ताई ने कहा कि नारी सम्मान, स्वाभिमान व संस्कृति की रक्षा हेतु दुर्गा वाहिनी की भूमिका सराहनीय है।

महान क्रान्तिकारी रासबिहारी बोस

भारतीय स्वतंत्रता संग्राम के महान क्रान्तिकारी रासबिहारी बोस    लेखक : भाई विशाल अग्रवाल
देश की आजादी के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर कर देने वाले क्रांतिकारियों का जब जब जिक्र होगा, 1911 से 1945 तक अनवरत अपने आपको भारत की आज़ादी की लड़ाई के लिए तिल तिल गलाने वाले महान क्रांतिकारी रासबिहारी बोस (Ras Bihari Bose) का नाम हमेशा आदर के साथ लिया जाता रहेगा, जिनका 25 मई को जन्मदिवस है। रासबिहारी ब्रिटिश राज के विरुद्ध गदर षडयंत्र एवं आजाद हिन्द फौज के प्रमुख संगठनकर्ता थे।

गुरुवार, 4 जून 2015

खौफ या आतंक के उत्सव से दिल्ली को बचाओ : विहिप

नई दिल्ली जून 1. 2015 मुस्लिम त्योहारों ख़ास कर शब ए बारात के मौके पर मुस्लिम युवकों द्वारा दिल्ली की कानून व्यवस्था को ताक पर रख कर दिल्ली वासियों का जीना दूभर किए जाने की गत कुछ वर्षों की घटनाओं को देखते हुए विश्व हिन्दू परिषद (विहिप) ने इस बार एतिहातन कदम उठाए हैं.

बुधवार, 3 जून 2015

प्रधानमंत्री ने सहकारिता को राजनीति से मुक्त करने की बात की

एनडीए सरकार के एक साल पूरे होने पर हिन्दुस्थान समाचार बहुभाषी न्यूज एजेंसी को दिए अपने विशेष साक्षात्कार में भारत के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने सहकारिता को राजनीति से मुक्त करने की बात की। किसानों द्वारा आत्महत्या करने का सिलसिला नहीं रुकने के सवाल पर प्रधानमंत्री ने समस्या को जड़ से खत्म करने के प्रयासों पर काम करने का आह्वान किया। वहीं स्वच्छ भारत और गंगा स्वच्छता अभियान को लेकर अपना संकल्प दोहराया। हिन्दुस्थान समाचार बहुभाषी न्यूज एजेंसी के एडिटोरियल डॉयरेक्टर श्रीराम जोशी को दिए अपने विशेष साक्षात्कार में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुछ निजी बातें भी शेयर की।

आश्रम व्यवस्था मानव जीवन का आधार : डा सुरेन्द्र जैन

नई दिल्ली जून 2, 2015. वेदों, उपनिषदों तथा पूज्य संतों द्वारा दिखाई गई आश्रम व्यवस्था मानव जीवन का मूलाधार है। बृह्मचर्य आश्रम जहां जीवन को जीने के लिए आवश्यक ज्ञान, ध्यान, सुसंस्कार, ऊर्जा तथा मूल्याधारित शिक्षा ग्रहण करने का मूल श्रोत है वहीं गृहस्थ आश्रम साधनों के उचित उपभोग, उत्तम संतति, सेवा तथा जन कल्याण का मार्ग प्रशस्त कर शेष दो आश्रमों की नींव रखता है। विश्व हिन्दू परिषद की प्रवक्ता डा विजय प्रभा अग्रवाल के जीवन के साठ वर्ष पूर्ण होने के अवसर पर आयोजित षष्ठी-पूर्ति कार्यक्रम को संबोधित करते हुए विहिप के अंतर्राष्ट्रीय संयुक्त

रविवार, 31 मई 2015

समाचार, शोचने का

गौ वंश की संख्या कम होने से कृषकों को ऊंची कीमत पर खेती के लिए बैल खरीदना पड़ रहा है।

सुंदरगढ़ :गौ तस्करी रोकने को लेकर सुंदरगढ़ जिले के तिलेइकानी इलाके के ग्रामीणों ने बुधवार को डीएम कार्यालय के समक्ष प्रदर्शन किया। इलाके में शांति व सद्भावना बनाये रखने के लिए निषेधाज्ञा हटाने एवं टिकाजोर मवेशी बाजार को बंद करने की मांग की।

गुरुवार, 28 मई 2015

विश्व हिन्दू परिषद मार्गदर्शक मंडल मे पारित प्रस्ताव

विश्व हिन्दू परिषद की मार्गदर्शक मंडल मे पारित प्रस्ताव समूह पिडिएफ़ फार्मेट मे और फोटो संलग्न कि गई है आपके जानकारी के लिए। ३ प्रस्तावों के साथ एक सूचना भी संलग्न है। 

मंगलवार, 26 मई 2015

आर्य समाज मंदिर तोड़े जाने पर प्रचण्ड प्रदर्शन

मेयर द्वारा पुनर्निर्माण के भरोसे के बाद ही शांत हुए प्रदर्शनकार
 नई दिल्ली, मई 24, 2015। उत्तरी दिल्ली के फ़िल्मिस्तान सिनेमा के नज़दीक डीसीएम रेलवे कॉलोनी स्थित आर्य समाज मंदिर को तोड़े जाने से आक्रोषित हिंदू धर्मावलंबियों ने आज विरोध स्वरूप जमकर प्रदर्शन किया। दिल्ली भर से जुटे आर्य समाज, विश्व हिन्दू परिषद तथा अन्य धार्मिक संगठनों के लोगों, वरिष्ठ संतों और मूर्धन्य विद्वानों ने श्रद्धा, विश्वास, आध्यात्मिक ऊर्जा व राष्ट्र निर्माण के कार्य में प्रमुख भूमिका निभाने वाले

शनिवार, 16 मई 2015

मौलवी के घर धमाका, बच्चे की मौत

लखीमपुर खीरी – मिडिया खबर के अनुसार शहर के चांदमारी रोड स्थित नौरंगाबाद मोहल्ले में मौलवी जमाल अहमद के घर में शनिवार सुबह करीब नौ बजे तेज धमाका हुआ, जिसमें उनके चार वर्र्षीय बेटे अबू उबैदर की मौत हो गई। एसपी अरविंद सेन ने घटनास्थल का मौका-मुआयना किया है। धमाके का कारण जानने के लिए फोरेंसिक टीम और पुलिस ने साक्ष्य जुटाए हैं। पुलिस ने कंप्यूटर के सीपीयू समेत कई वस्तुओं को जांच के लिए कब्जे में ले लिया है।

शुक्रवार, 15 मई 2015

सांप्रदायिक सौहार्द्र के खलनायक

कश्मीरी पंडित कहां बसें, श्री अमरनाथ यात्रा कितने दिनों का हो? ऐसे ही कुछ बेतुकि बाते कौन कर रहा है? जाने इस लेख में|
इस बात से कोई इन्कार नहीं कर सकता कि जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी तत्व फिर से अस्थिरता,हिंसा और अव्यवस्था की स्थिति पैदा करने की साजिश कर रहे हैं। ऑल पार्टी  हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के एक धड़े के नेता सैयद अली शाह गिलानी की 15 अप्रैल को दिल्ली से कश्मीर वापसी के दिन से लेकर आप नजर उठा लीजिए, घटनायें इसको प्रमाणित कर देंगी। 
वास्तव में अभी उन्होंने त्राल की अपनी रैली में पवित्र अमरनाथ यात्रा को 15 दिन से 1 महीने तक सीमित करने का जो भाषण दिया है वह इसी की कड़ी है। 

मंगलवार, 12 मई 2015

पत्रकार सम्मान समारोह-2015 , नई दिल्ली

अर्ध सत्य दिखाना देश, समाज के साथ धोखा – डॉ कृष्ण गोपाल जी

नई दिल्ली 9 मई. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सह सरकार्यवाह डॉ कृष्ण गोपाल जी ने कहा कि वर्तमान में पत्रकारिता का क्षेत्र सुनामी के दौर से गुजर रहा है. समाचार जगत में मान-सम्मान, चकाचौंध सबकुछ है, पर, इसमें यथार्थ और सत्यता को भी टिकाए रखना है. वर्तमान समय में समाचार को सनसनीखेज बनाने की कोशिश करते हैं, आधे सत्य पर पर्दा डालकर आधा सत्य दिखाने से द्वेष की भावना बढ़ती है, देश की छवि को नुकसान पहुंचता है, यह देश और समाज के साथ धोखा भी है. समाचार में सनसनी पैदा करना समाचार की पवित्रता के भी विपरीत है.
उन्होंने कहा कि महर्षि नारद पत्रकार जगत के आदि पुरुष हैं. किसी भी लोभ-लालच से दूर, संपत्ति संचयन से दूर, निस्वार्थ भाव, हर व्यक्ति से संबंध, निरंतर भ्रमणशील, और सभी को खबर देने का कार्य करते थे. वर्तमान में आदर्श समाचार पत्रों में नारद जी के यह गुण विद्यमान होते हैं. पत्रकारिता लोभ-लालच से दूर, निस्वार्थ होनी चाहिए.

शुक्रवार, 8 मई 2015

दिल्ली के महिला और तीन वर्षीय बेटी का अपहरण

  प्रेस विज्ञप्ति: 
 दिल्ली के द्वरिका से महिला और तीन वर्षीय बेटी का अपहरण
24 दिन से कोई सुराग नहीं, विहिप ने लगाई एसीपी से गुहार
नई दिल्ली। मार्च 07, 2015। दक्षिण पश्चिमी दिल्ली के द्वारिका क्षेत्र से एक 23 वर्षीया महिला का उसकी साढे तीन वर्षीया बेटी के साथ अपहरण का सनसनीखेज मामला प्रकाश में आया है। अप्रेल के दूसरे हफ़्ते में घटी इस घटना के एक सप्ताह बाद दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा 365 के तहत अपहरण का मुकदमा तो दर्ज कर लिया किन्तु 24 दिन बीत जाने पर भी पुलिस हाथ पर हाथ धरे बैठी है।